दृष्टि एवं ध्‍येय

दृष्टि (Vision)

“लोक सेवा के क्षेत्र में अभिवृद्धि एवं नेतृत्‍व विकास हेतु उत्‍कृष्‍टता केन्‍द्र बनना।“

ध्‍येय (Mission) 

अपने लक्ष्‍य को मूर्तरूप देने के लिये हम:-

  • लोकसेवकों को सुशासन के लिये उपयुक्‍त प्रवृत्ति, कौशल, ज्ञान एवं मूल्‍य प्रदान करते हुए परिवर्तित करेंगे।
  • शासकीय विभागों की प्रशिक्षण नीतियों के निर्माण तथा उनके प्रशिक्षण संसाधनों के क्षमता संवर्धन में सहयोग करेंगे।
  • विकेन्‍द्रीकृत एवं दूरवर्ती पद्यति को समा‍हित कर नवाचारी प्रदर्शों के माध्‍यम से प्रशिक्षण की पहुँच बढायेंगे।
  • अपने आप को नीति निर्धारण, विश्‍लेषण एवं मूल्‍यांकन के स्‍त्रोत केन्‍द्र के रूप में स्‍थापित करेंगे।

प्रमुख गतिविधियाँ

प्रकाशन

"एक अनाड़ी की कही कहानी’’ पुस्‍तक का प्रकाशन एवं विमोचन

प्रशासन अकादमी के ज्ञान प्रबंधन एवं सुशासन केन्‍द्र द्वारा प्रदेश के प्रख्‍यात प्रशासक पद्मभूषण स्‍व. श्री आर. पी. नरोन्‍हा की पुस्‍तक “A tale told by an Idiot” का हिन्‍दी अनुवाद “एक अनाड़ी की कही कहानी’’ अकादमी के तत्‍कालीन महानिदेशक श्री इन्‍द्रनील शंकर दाणी द्वारा किया गया है। उक्‍त पुस्‍तक का प्रकाशन राजकमल प्रकाशन प्रा. लि., नई दिल्‍ली द्वारा किया गया। दिनांक 15 जून, 2015 को पुस्‍तक का विमोचन माननीय श्री जयंत सिन्‍हा, राज्‍य मंत्री, भारत सरकार, वित्‍त मंत्रालय के द्वारा किया गया।